खुशहाल जिंदगी के मूलमंत्र |Happy Life Tips in Hindi

BE HAPPY

खुश रहना कौन पसंद नहीं करता है सब लोग यही चाहते है कि हम हमेशा खुश रहे हमे कोई भी दिक्कत नहीं आनी चाहिए, आज हम आपको बताने जा रहे है

जब कोई भी मनुष्य अपनी अंतरआत्मा से खुश रहता है तो वह अंदर से बहुत हलका व सहज महसूस करता है.

खुशी का क्या मतलब है?

खुशी सिर्फ एक अहसास है जो हम अपनी या किसी दूसरे कि गतिविधि को देखकर या फिर हो सकता है सुनकर महसूस कर सकते है |वैसे तो खुश रहना एक इंसान का स्वभाव होता है जब वो किसी से बात करता है, किसी से मिलने जाता है तो उस वक़्त दोनों लोग एक दूसरे को खुशी का अहसास कराते है |

1.) दुसरो से बराबरी ना करे :

हम अक्सर खुद को दुसरो से तुलना करते है क्या उन्होंने कभी अपनी तुलना आपसे की। एक सफल और सुखी व्यक्ति कभी भी अपनी तुलना दुसरो से नहीं करता है। क्यों की वो जानता है की वो क्या है और क्या बन सकता है।

अगर आप भी दुसरो से तुलना कर खुद को जिंदगी का हिस्सा बनाते है तो आप कभी आगे नहीं बढ़ सकते इसलिए दुसरो से खुद की तुलना करना छोड़ कर अपनी ताकत पहचाने और उसे और मजबूत बनाये।

2.)हर स्थिति में अच्छा और सकारात्मक ही सोचे

दोस्तों, हर किसी के जीवन में हमेशा एक जैसा समय नहीं रहता है condition के अनुसार बदलता रहता है ये सबके साथ होता है जब कोई भी इंसान अपने अच्छे समय में रहता है तो बढ़िया खाता है पीता है और अच्छा करने के लिए सोचता भी है हर time positive रहता है.

परंतु जब उसे कोई भी परेशानी आती है उस वक़्त वो क्या अच्छा है क्या सकारात्मक है ये सब नहीं सोच पाता है और कुछ ना कुछ गलत कर ही बैठता है उस time तो उसे पता नहीं होता है किन्तु बाद में अहसास होता है कि उससे कही ना कही गलत हुआ है.

3.) समाधान पर ध्यान दे

ये हम लोगो का nature होता है जब कभी भी हमारी लाइफ में problems आती है तो हम मनुष्य उन सारी प्रॉब्लमस पर ही फोकस रखते है ये कैसी हो गया ये क्यूँ हो गया नाकि उनके solutions पर ये दिक्कत कैसे दूर होगी कब होगी.

इसलिए हम आपको यही सलाह देंगे आप हमेशा अपनी problem पर से फोकस हटा कर उनके समाधान पर ध्यान दे.

4.) आपका अतीत आपके आज और आने वाले कल को निर्धारित नहीं कर सकता :

ज्यादातर लोग अपनी गलतियों से ही सीखते है लेकिन अपनी अतित में की गई गलती से आज और आने वाले कल को क्यों खराब करना। अगर आप भी अपने आज को पास्ट की गलतियों के पश्चाताप ( याद करके ) बर्बाद कर रहे तो संभल जाइये आप कभी भी अपने आने वाले को खुशहाल नहीं बना सकेंगे।

क्या करे :

जो बीत गया वो एक बुरा सपना था जो आपके सामने है वो आज है इसे अपना बेस्ट से बेस्ट दे आपका आने वाला कल अपने आप बढ़िया बनेगा बशर्ते आप पास्ट और फ्यूचर की सोच में वर्तमान को इग्नोर ना करे हमें वर्तमान में रहना चाहिए। जो हो रहा है उसे अपना बेस्ट दो बीते वक़्त और आने वाले वक़्त में समय बर्बाद मत करो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *